Posts

Showing posts from January, 2015

जैसलमेर- लौद्रवा तीर्थ की पुरातत्व वास्तु शिल्प का महत्व लिये प्राचीन दादावाड़ी के परिसर में दि.26 जनवरी 2015 को मुनि मुक्तिप्रभसागरजी म. व मुनि मनीषप्रभसागरजी म.सा. व साध्वी मण्डल की पावन सानिध्य में जीर्णोध्दारित दादावाड़ी की भव्य प्रतिष्ठा उल्लास के साथ सम्पन्न हुयी।

Image
प्रतिष्ठा महोत्सव का मांगलिक कार्यक्रम 11.30 बजे प्रारम्भ होकर विजय मुर्हत में ॐ पुण्याहं पुण्याहं प्रियंताम् प्रियंताम् के साथ ही सभी दादा गुरूदेवो की प्रतिमा व गुरूमूर्ति के साथ काला भैरव. गोरा भेरव आदि जिनबिम्बो की भव्य प्रतिष्ठा विधि विधान से मुनिश्री ने सम्पन्न कराया ।
नूतन ध्वजदण्ड स्थापित कर नई ध्वजा फहराई गई । इस अवसर पर मुनिश्री व साध्वी मंडल को जैन ट्रस्ट जैसलमेर व जिनदतसूरि जैन मंडल चैन्नई की ओर से काम्बली ओढाई गई। इस अवसर पर सभी गुरूभक्तो व विदेशो से आये मेहमानो ने नृत्य कर हर्शोल्लास से प्रतिश्ठा महोत्सव सम्पन कराया । इस अवसर पर फले चुंदड़ी की लाभ जिनदत्तसूरी जैन मण्डल चैन्नई के सदस्यो द्वारा लिया गया । दोपहर में दादागुरू देव की महापूजन प्रतिश्ठा लाभार्थी परिवार द्वारा कराई गई।
प्राचीन दादावाडी का जीर्णोद्धार श्री जैन ट्रस्ट जैसलमेर के आदेश से श्री जिनदत्तसूरि मंडल, चेन्नई के तत्वावधान में चेन्नई फलोदी निवासी श्री गोपीचंदजी गणपतलालजी गोलेच्छा, श्री लालचंदजी अशोककुमारजी लोढा व नागोर निवासी श्री सोहनलालजी अजीतकुमारजी लूणावत द्वारा संपन्न करवाया गया है।

श्री रवीन्द्रजी जैन, गीतकार संगीतकार को भारत सरकार की ओर से पद्मश्री उपाधि मिलने पर जहाज मंदिर परिवार की तरफ से हार्दिक बधाई...

Image

INVITATION पूज्य गुरुदेव आचार्य भगवंत श्री जिनकान्तिसागरसूरीश्वरजी म.सा. के समाधि-धाम जहाज मंदिर मांडवला की प्रतिष्ठा की 16वीं वर्षगांठ ता. 2 फरवरी 2015 को मनाई जायेगी।

Image
पूज्य गुरुदेव आचार्य भगवंत श्री जिनकान्तिसागरसूरीश्वरजी म.सा. के समाधि-धाम जहाज मंदिर मांडवला की प्रतिष्ठा की 16वीं वर्षगांठ माघ सुदि 14 ता. 2 फरवरी 2015 को मनाई जायेगी। सतरह भेदी पूजा के साथ ध्वजा चढाई जायेगी। पूजनीया साध्वी श्री मुक्तिप्रियाश्रीजी म.सा. आदि ठाणा इस समारोह को निश्रा प्रदान करेंगे। सुबह 9 बजे वरघोडा निकाला जायेगा। उसके बाद झण्डारोहण होगा। तत्पश्चात् पूज्याश्री का मंगल प्रवचन होगा। परमात्मा के अठारह अभिषेक होंगे। विजय मुहूत्र्त में ध्वजा चढाई जायेगी।More information please contact Vimal Jain 0964 964 0451

लौद्रवपुर दादावाडी की प्रतिष्ठा 26 जनवरी को पूज्य मुनिराज श्री मुक्तिप्रभसागरजी म. पूज्य मनीषप्रभसागरजी म. की पावन निश्रा में संपन्न होगी। त्रिदिवसीय परमात्म भक्ति महोत्सव आयोजित होगा। लाभार्थी परिवार एवम् जैन ट्रस्ट द्वारा सभी धर्मप्रेमियों को पधारने का हार्दिक निवेदन है।

Image
श्री लोद्रवपुर  तीर्थ  स्थित प्राचीन दादावाडी का जीर्णोद्धार श्री जैन ट्रस्ट जैसलमेर के आदेश से श्री जिनदत्तसूरि मंडल, चेन्नई के तत्वावधान में चेन्नई फलोदी निवासी श्री गोपीचंदजी गणपतलालजी गोलेच्छा, श्री लालचंदजी अशोककुमारजी लोढा व नागोर निवासी श्री सोहनलालजी अजीतकुमारजी लूणावत द्वारा संपन्न करवाया गया है। इस दादावाडी की प्रतिष्ठा पूज्य गुरुदेव आचार्य भगवंत श्री जिनकान्तिसागरसूरीश्वरजी म.सा. के शिष्य प्रशिष्य पूज्य मुनिराज श्री मुक्तिप्रभसागरजी म. पूज्य मनीषप्रभसागरजी म. की पावन निश्रा में ता. 26 जनवरी 2015 को शुभ मुहूर्त में संपन्न होगी। इस अवसर पर त्रिदिवसीय परमात्म भक्ति महोत्सव आयोजित होगा।
लाभार्थी परिवार एवम् जैन ट्रस्ट द्वारा सभी धर्मप्रेमियों को पधारने का हार्दिक निवेदन है।संपर्क मुकेश गोलेच्छा   09444454062

सिंधनूर निवासी श्री महावीरजी नाहर की सुपुत्री कुमारी शिल्पा नाहर की भागवती दीक्षा ज्येष्ठ सुदि 11 शुक्रवार ता. 29 मई 2015 को सिंधनूर नगर-KNTK में होगी।

Image
सिंधनूर निवासी श्री महावीरजी नाहर की सुपुत्री कुमारी शिल्पा नाहर की भागवती दीक्षा ज्येष्ठ सुदि 11 शुक्रवार ता. 29 मई 2015 को सिंधनूर नगर-KNTK में होगी।गयह भागवती दीक्षा पूज्य उपाध्याय गुरुदेव श्री मणिप्रभसागरजी म. सा. के सानिध्य में संपन्न होगी।
कुमारी शिल्पा पिछले 6 वर्षों से पूजनीया पाश्र्वमणि तीर्थ प्रेरिका साध्वी श्री सुलोचनाश्रीजी म.सा. सुलक्षणाश्रीजी म.सा. के सानिध्य में अध्ययन कर रही है।
कुमारी शिल्पा ने चार प्रकरण, तीन भाष्य, कर्मग्रन्थ आदि का गहन अभ्यास किया है। उसके परिवार से उसकी दो भुआजी एवं एक बहिन पूर्व में दीक्षित हैं।
दीक्षा सिंधनूर में होगी, इस घोषणा  से सकल संघ में आनंद की लहर छा गई।

पूज्य गुरुदेव उपाध्याय श्री मणिप्रभसागरजी म.सा. की निश्रा में होने वाले आगामी महोत्सवों में आप सभी को भावभरा आमंत्रण।

Image
ता. 26 जनवरी 2015 तिरूप्पुर में अंजनशलाका प्रतिष्ठा ता. 2 फरवरी 2015 कोयम्बतूर में अंजनशलाका प्रतिष्ठाता. 27 फरवरी 2015 कन्याकुमारी में अंजनशलाका प्रतिष्ठाता. 7 मार्च 2015 तिरूनलवेली में नवपद पट्ट प्रतिष्ठाता. 25 अप्र्रेल 2015 चैन्नई में माता पुत्र की भागवती दीक्षाता. 26 अप्रेल 2015 चैन्नई में अंजनशलाका प्रतिष्ठाता. 29 मई 2015 सिंधनूर में भागवती दीक्षाता. 25 जुलाई 2015 पूज्यश्री का रायपुर नगर में चातुर्मास हेतु प्रवेश