Jul 20, 2016

Khartargachchh Yuva Parishad अ. भा. खरतर गच्छ युवा परिषद् की सभा संपन्न


Khartargachchh Yuva Parishad 

गुरु पूर्णिमा के पावन अवसर पर दुर्ग (छत्तीसगढ़ ) में पूज्य खरतरगच्छाधिपति आचार्य श्री जिनमणिप्रभसूरीजी म.सा. की निश्रा में दि. 19 जुलाई को अ.भा.खरतरगच्छ युवा परिषद् की केंद्रीय और समस्त शाखाओं के अध्यक्षों और सचिवों की सभा सम्पन्न हुई ।
गुरु वन्दन और मंगलाचरण के बाद केयूप की पूर्व की मीटिंग की जानकारी के बाद आगे की कार्यवाही पर चर्चा हुई I जिसमें अहमादाबद में परिषद का पंजीकरण (रजिस्ट्रेशन) कराना निश्चित किया ।  सभी शाखा के सदस्यों को संस्था और गच्छ के प्रति प्रेरित करने के उद्देश्य से सभी शाखाओं का राज्यस्तरीय अधिवेशन का आयोजन करने का निर्णय लिया गया I
 जिसके लिए कुशलजी गुलेच्छा को संयोजक बनाया गया I
दि. 24 और 25 सितम्बर को दुर्ग नगर में केयूप का राष्ट्रीय अधिवेशन आयोजित करने का निर्णय लिया गया  जिसमें पदमजी बरडिया (दुर्ग) को संयोजक एवं  सुरेश जी भंसाली (रायपुर) और ललित भंसाली (राजनांदगांव) को सह संयोजक बनाया गया I  यह अधिवेशन सभी सदस्यों के लिए अनिवार्य रहेगा I इस अधिवेशन में सभी शाखा के लगभग 3000 युवाओं के सहभागी होने की आशा है । ललित डाकलिया (बेंगलोर) को वेयावच विभाग का सह संयोजक बनाया गया ।
सभी शाखा के कार्यो को ध्यान में रखकर उन्हें प्रथम द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त करने पर सम्मानित करने का भी निर्णय लिया गया I शाखा गठन के पांच मुख्य उद्देश्य जैसे दादा गुरुदेव श्री जिनचंद्रसूरीश्वरजी म.सा. की पुण्यतिथि (आसोज वद २ ) को भव्य मेले का आयोजन करना, प्रति रविवार स्नात्र पूजा का आयोजन,  धार्मिक पाठशाला ज्ञान वाटिका का आयोजन, मानव सेवा के कार्यक्रम, खरतरगच्छ की जनगणनाधार्मिक स्थलों का स्वच्छता अभियान, सधार्मिक भक्ति का आयोजन आदि कार्यक्रम  प्रत्येक शाखा को अनिवार्य रूप से करने पर भार दिया गया  इस तरह अनेक विषयो पर चर्चा करके मीटिंग समाप्त हुई 
कई युवा साथियो ने अपने विचार रखे जिसको सहर्ष स्वीकार किया और आने वाले समय पर उस पर भी चर्चा करने की बात की । मीटिंग में आजीवन योजना और पंच वर्षीय योजना के अंतर्गत फंड की भी चर्चा हुई जिसमे कई सदस्यों ने अपने नाम लिखाये 
मीटिंग में चेयरमेन अशोक भंसाली अहमदबाद, अध्यक्ष रतन बोथरा दिल्ली, सचिव प्रदीप श्रीश्रीमाल मुम्बई,  सुरेश लुनिया, पदम् जी टाटिया चेन्नई, राजेश छाजेड मुंबई, ललित रांका, ललित डाकलिया, गौतम कोठारी बेंगलोर,  गौतम मालू सूरत, पुरषोत्तम सेठिया बालोतरा, दीपक नाहटा कोयम्बटूर, रतन जी बोथरा अहमदाबाद, मनीष नाहटा दिल्ली, जयजी चोपड़ा महासमुंद, ललित छाजेड़, सचिन पारख रायपुर, ललित भंसाली राजनांदगांव, योगेश बरडिया गोंदिया, पदम् बरडिया, प्रवीण बोथरा, दीपक चोपड़ा, आशीष बोहरा दुर्ग, एवम् दुर्ग ट्रस्ट से ज्ञानचन्दजी कोठारी, सन्तोषजी लोढ़ा, कांतिलालजी बोथरा, उत्तम बरडिया, सन्दीप निमाणी आदि सभी पधारे थे। दुर्ग श्री संघ ने बहुत सुंदर व्यवस्था की I

-धनपत कानुंगो
(राष्ट्रिय संयोजक)
- केन्द्रीय प्रचार प्रसार समिति
अ. भा. खरतर गच्छ युवा परिषद्


jahaj mandir, maniprabh, mehulprabh, kushalvatika, JAHAJMANDIR, MEHUL PRABH, kushal vatika, mayankprabh, Pratikaman, Aaradhna, Yachna, Upvaas, Samayik, Navkar, Jap, Paryushan, MahaParv, jahajmandir, mehulprabh, maniprabh, mayankprabh, kushalvatika, gajmandir, kantisagar, harisagar, khartargacchha, jain dharma, jain, hindu, temple, jain temple, jain site, jain guru, jain sadhu, sadhu, sadhvi, guruji, tapasvi, aadinath, palitana, sammetshikhar, pawapuri, girnar, swetamber, shwetamber, JAHAJMANDIR, www.jahajmandir.com, www.jahajmandir.blogspot.in,

Jul 16, 2016

Udaipur Chaturmas... उदयपुर दादावाडी में चातुर्मास प्रवेश संपन्न

             श्री जैन श्वे. वासुपूज्य महाराज का मन्दिर एवं श्री जिनदत्तसूरिजी दादावाडी ट्रस्ट, उदयपुर के तत्वावधान में प.पू. आचार्य भगवंत श्री जिनकांतिसागरसूरीश्वरजी म.सा. के शिष्य-प्रशिष्य एवं खरतरगच्छाधिपति आचार्य श्री जिनमणिप्रभसूरीजी म.सा. के निश्रावर्ती मुनिराज श्री मुक्तिप्रभसागरजी म.सा. एवं प्रवचनकार मुनिराज श्री मनीषप्रभसागरजी म.सा. का चातुर्मास उदयपुर स्थित जिनदत्तसूरि दादावाडी में है, जिसका नगर प्रवेश दि. 2 जुलाई 2016 को स्थानीय ज्योति होटल से सूरजपोल दादावाडी पर सम्पन्न होकर आराधना भवन में धर्मसभा में परिवर्तित हुआ। 
       पूज्य मुनि श्री मुक्तिप्रभसागरजी म. के मंगलाचरण से धर्मसभा प्रारम्भ हुई, पूज्य मुनि श्री मनीषप्रभसागर जी म.सा. ने चातुर्मास की महत्ता पर प्रकाश डालते हुये चातुर्मास को तपस्या व आराधना से परिपूर्ण बनाने का संदेश दिया। ट्रस्ट के सचिव राजभाई लोढ़ा ने अपने वक्तव्य में खरतरगच्छाधिपति आचार्य श्री जिनमणिप्रभसूरीश्वरजी म.सा. के शुभकामना संदेश का वांचन करते हुये मुनिश्री का चातुर्मास हेतु हुये उग्र विहार ही सुखपृच्छा की। मुख्य चातुर्मास संयोजक श्री किरणमलजी सावनसुखा ने स्वागत भाषण दिया। राजस्थान के गृहमंत्री श्री गुलाबचन्दजी कटारिया ने अपने उद्बोधन में जैन एकता पर बल देने का अनुरोध किया। 
              इस पावन अवसर पर मुनि श्री मनीषप्रभसागरजी म. के संयम जीवन के 29 वर्ष प्रवेश के उपलक्ष में गुरुभक्तों द्वारा प्रकाशित लेखन पुस्तिका का विमोचन मुख्य अतिथि राजस्थान के गृहमंत्री श्री गुलाबचन्दजी कटारिया ने किया। 
              समारोह के मुख्य अतिथि राजस्थान के गृहमंत्री श्री गुलाबचन्दजी कटारिया, नगर निगम के महापौर श्री चन्द्रसिंहजी कोठारी, अमृतलालजी कटारिया, जीवराजजी श्रीश्रीमाल मुम्बई, लुणकरणजी सेठिया चोहटन, श्रीसंघ अध्यक्ष डाँ. शैलेन्द्रजी हिरण, महासभा अध्यक्ष तेजसिंहजी बोल्या, महासभा-श्रीसंघ के मंत्री कुलदीपजी नाहर एवं थोब की बाड़ी अध्यक्ष मनोहरसिंहजी नलवाया का दादावाडी ट्रस्ट की ओर से बहुमान किया गया। चार्तुमास संयोजक गजेन्द्रजी भंसाली ने धन्यवाद ज्ञापित किया। सभा का संचालन समाजसेवी प्रकाशजी नागोरी ने किया।
प्रेषक
दलपतसिंह दोशी
सह सचिव