Nov 28, 2017

BIKANER बीकानेर के चिंतामणि मंदिर परिसर में प्राचीन प्रतिमाओं के दर्शन पूजन अभिषेक भक्तामर पाठ से प्रतिमाओं की पूजा हुई

CHINTAMANI MANDIR BIKANER
बीकानेर, 28 नवंबर। जैन श्वेताम्बर खरतरगच्छ के गच्छाधिपति आचार्यश्री जिनमणिप्रभसूरिजी महाराज के निर्देशन में भुजिया बाजार के चिंतामणि जैन मंदिर में 1116 प्राचीन प्रतिमाओं के पांच दिवसीय महोत्सव के दूसरे दिन मंगलवार को दर्शन, पूजन, अभिषेक, भक्तामर महापूजन व भक्ति सहित विविध आयोजन हुए। आरती आदि के साथ दो किलो सोने से निर्मित के धूपदानी से 1116 प्रतिमाओं की आरती उतारी गई।
CHINTAMANI MANDIR BIKANER

श्री चिंतामणि जैन मंदिर प्रन्यास के सचिव चन्द्रसिंह पारख ने बताया कि उत्सव के दूसरे दिन भी सैंकडों श्रावक-श्राविकाओं ने सुबह से शाम तक पूजा अर्चना की तथा सैकड़ों लोगों ने मंदिर की प्राचीन प्रतिमाओं के दर्शन किए। बीकानेर शहर के विभिन्न जैन समुदाय के श्रावक-श्राविकाओं के साथ जैनेतर श्रद्धालुओं तथा देश के विभिन्न क्षेत्रों से आए लोगों ने मंदिरजी में परमात्मा के दर्शन कर धन्यता का अनुभव किया।


CHINTAMANI MANDIR BIKANER

आज दोपहर में संपन्न हुए श्री भक्तामर महापूजन का लाभ झंवरलालजी, कस्तुरीदेवी, मनोजकुमार सेठिया ने लिया। महोत्सव के तहत बुधवार को सुबह सात बजे सुवर्ण, रजत व कांस्य कलश से परमात्मा का अभिषेक, नव ग्रह, दश दिक्पाल, अष्टमंगल पूजन तथा विजयमुर्हूत में श्री 108 पाश्र्वनाथ महापूजन होगा। पूजन का लाभ वीरमती देवी, भंवरलाल, अभयकुमार व अशोककुमार डागा परिवार ने लिया है। मूर्तियों को प्रकट करने व श्रीसंघ को दर्शन करवाने का लाभ पुरखचंद, धनराज, नेमचंद डागा परिवार ने लिया।