Showing posts with label Baramsar. Show all posts
Showing posts with label Baramsar. Show all posts

Feb 18, 2015

Pranam Gurudev ।। स्वीकार करो दादा प्रणाम हमारा है ।।

अरदास हमारी है
आधार तुम्हारा है

स्वीकार करो दादा
प्रणाम हमारा है

नैनो में रंगे हो तुम
मेरे दिल में बसे हो तुम

अर्जी स्वीकार करो
भवसागर पार करो
फिर हाथ फिरा करके
मेरा उद्धार करो

गिरते को उठाना तो
दादा काम तुम्हारा है

स्वीकार करो दादा
प्रणाम हमारा है
��������

Dada Gurudev ।।। दादा गुरुदेव का भजन  ।।।

बोलिये दादा जिनकुशलसुरि गुरुदेव की जय
        ।।। दादा गुरुदेव का भजन  ।।।

देराउर में स्वर्ग हुवो
वो मालपुरा में दर्श दियो....

माँ जैसल थारो पूत कठे
वो कुशलसुरी गुरुदेव कठे
हो सिवाना में जन्म लियो, हो.....
वो मंत्रीश्वर रो लाल कठे
        माँ जैसल....

मैं बांच्यो है इतिहासों में
मायड़ थे ऐडा पूत जणाया
थे नाम लजाओ नहीं थारो
कलयुग में थे अवतार हुआ
"छाजेड़" गौत्र उद्धार कियो हो....
वो कुशल सूरी गुरुदेव कठे
         माँ जैसल....

वो धरती देराउर री
जहाँ गुरुदेव का स्वर्ग हुआ
एक भक्त री पुकार सुणी ने
वो मालपुरा धाम बना
हो अमावस री पूनम कीनी....हो....
वो कुशलसुरी गुरुदेव कठे।
      माँ जैसल थारो....